इटावा। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के समारोह में नुमाइश पंडाल में मंगलवार को तब खलबली मच गई जब एक दूल्हा मंडप से टॉयलेट के बहाने भागकर गायब हो गया। सुनहरे वैवाहिक जीवन का सपना संजोए दुल्हन के जोड़े में सजी बेटी के आंसू देख सभी द्रवित हो गए। उसके पिता ने वर पक्ष पर चार लाख रुपये दहेज मांगने का आरोप लगाया है। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं।

भदामई गांव की स्नेहलता का विवाह रुकमपाल ङ्क्षसह निवासी नगला बने किशनी, मैनपुरी से तय हुआ था। स्नेहलता के पिता अभयराम ने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत विवाह की बात तय कर ली थी। नुमाइश पंडाल में 52 जोड़ों के लिए मंडप सजाया गया था। सभी जोड़े वहां पहुंचे। वैवाहिक कार्यक्रम शुरू होने से चंद मिनट पूर्व दूल्हा रुकमपाल टॉयलेट जाने की बात कहकर निकला और फिर नहीं लौटा। उसे खोजने के बहाने उसके परिजन भी चले गए।
काफी तलाश के बाद भी वर पक्ष का पता नहीं चला। डीएम ने मामले की जांच मुख्य विकास अधिकारी पीके श्रीवास्तव से कराने को कहा है। कार्यक्रम में परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव ङ्क्षसह भी शामिल हुए थे। घटना को लेकर पूछे गए सवाल का वह कोई जवाब नहीं दे सके। कहा कि मामले को दिखवाया जा रहा है।
News Source :- www.jagran.com

loading...