नई दिल्‍ली। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को आस्‍था सर्किट स्‍पेशल ट्रेन सर्विस की सुविधा का लाभ लेने का लोगों से आह्वान किया। उन्‍होंने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर कर तीर्थयात्रा के लिए चलाई गई इस स्‍पेशल ट्रेन की पूरी जानकारी दी।

गोयल ने ट्वीट कर बताया, ‘श्रद्धालुओं के लिए रेलवे द्वारा चलाई गई इस स्‍पेशल ट्रेन में पर्याप्‍त व्‍यवस्‍था की गयी है। आस्‍था सर्किट ट्रेन देश के प्रमुख तीर्थस्‍थानों के लिए सस्ते और सुलभ पर्यटन पैकेज प्रदान कर रहा है। इस पैकेज में भोजन और वहां रहने की व्‍यवस्‍था भी शामिल है।‘

उत्‍तर भारत में यहां से ‘आस्‍था सर्किट स्‍पेशल ट्रेन’

इसके अलावा उत्‍तरी भारत आस्‍था सर्किट स्‍पेशल ट्रेन असम में गुवाहाटी से शुरु होगी और वाराणसी, आगरा, वृंदावन, मथुरा, हरिद्वार, ऋषिकेष और अमृतसर तक जाएगी। साथ ही एक स्‍पेशल ट्रेन ओडिशा के पुरी से चलाई जाएगी जो गया, आगरा, वृंदावन, मथुरा, हरिद्वार, अमृतसर और माता वैष्‍णोदेवी का तीर्थाटन कराएगी।

loading...

दक्षिण भारत के श्रद्धालुओं के लिए

दक्षिण भारत की आस्‍था सर्किट स्‍पेशल ट्रेन बिहार के रक्‍सौल से चलेगी जो पुरी, तिरुपति, मदुरै, रामेश्‍वरम, कन्‍याकुमारी, त्रिवेंद्रम तक श्रद्धालुओं को दर्शन कराने में मदद करेगी। बिहार के दरभंगा से चलने वाली ट्रेन तिरुपति, मदुरै, रामेश्‍वरम, कन्‍याकुमारी और त्रिवेंद्रम को कवर करेगी।

पश्‍चिम भारत में ज्‍योर्तिलिंग स्‍पेशल टूर ट्रेन

ओडिशा के पुरी से शुरू होने वाली पश्‍चिमी भारत ज्‍योर्तिलिंग स्‍पेशल टूर ट्रेन ओंकारेश्‍वर, महाकालेश्‍वर, सोमनाथ, द्वारका और नागेश्‍वर तीर्थस्‍थानों को कवर करेगी। कोलकाता आस्‍था स्‍पेशल सर्किट ट्रेन हावड़ा से निकलेगी। यह तिरुपति, चेन्‍नई, पुडुचेर, मदुरै, रामेश्‍वरम और कन्‍याकुमारी तक जाएगी।

News Source :- www.jagran.com

loading...