बेंगलुरु । रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह टीम के कप्तान के तौर पर पहली बार इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब जीतना चाहते हैं। रॉयल चैलेंजर्स ऐसे खिलाडि़यों की टीम है, जो तीन बार फाइनल में पहुंचने के बावजूद टूर्नामेंट का फाइनल जीतने से चूकती रही है।

कोहली ने कहा, ‘रॉयल चैलेंजर्स के प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरा उतरने से ज्यादा ज्यादा मेरा जोर कप जीतने पर है। मैं दस साल से टीम के साथ हूं और हम तीन बार फाइनल की बाधा पार नहीं कर सके हैं। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि खिताब जीतने के लिए इस बार 120 फीसद योगदान दूंगा।’ कोहली का मानना है कि ठोस बल्लेबाजी के लिए पहचाने जाने वाले रॉयल चैलेंजर्स की गेंदबाजी भी इस बार मजबूत रहेगी।

युवा खिलाडि़यों के लिए प्लेटफॉर्म है आइपीएल : राजू

पूर्व क्रिकेटर वेंकटपति राजू ने कहा कि आइपीएल ने युवा खिलाडि़यों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराया है। उन्होंने कहा कि आइपीएल ने इस साल स्पिनरों समेत कई भारतीय खिलाडि़यों को मौका दिया है। राजू नब्बे के दशक में देश के बायें हाथ के जाने-माने स्पिनर रहे हैं। आइपीएल के 2018 चरण की शुरुआत सात अप्रैल को मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मैच से होगी।

loading...
loading...