नई दिल्ली । आम आदमी पार्टी (AAP) नेता कुमार विश्वास ने रविवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित कार्यकर्ता संवाद को सफल बताया। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन अन्य क्षेत्रों में भी किए जाएंगे। लखनऊ सहित कई क्षेत्रों से लोग नहीं आ सके हैं। कई लोग नहीं पहुंच सके हैं। वे मुझसे मिलना चाहते हैं, इसलिए मैं उनके बीच जाऊंगा। उनसे बात करूंगा।

उन्होंने साफ किया कि योगेंद्र यादव, प्रशांत भूषण व अंजलि दमनिया जैसे लोग पार्टी छोड़ कर गए हैं। उन्हें साथ लाने के लिए उनके लोग बात कर रहे हैं।

वहीं, जब उनसे पूछा गया कि क्या कपिल मिश्रा को भी वापस लाएंगे? कुमार ने कहा कि कोई भी अनुशासनात्मक कार्यवाही की विधिक प्रक्रिया की वजह से बाहर गया है तो वह प्रक्रिया पूरी होने के बाद अंदर आएगा।

कुमार विश्वास ने आप विधायक अमानतुल्लाह के खिलाफ की गई जांच पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि अब पार्टी में ऐसे नहीं चलेगा कि अमानतुल्लाह की तरह किसी को बगैर जांच के ही पार्टी में फिर से ले लिया जाए। पार्टी भटक चुकी है।

loading...

पार्टी वैकल्पिक राजनीति की ओर लौटेगी तो वे सभी लोग होंगे जो रामलीला मैदान में हमारे साथ थे। जंतर-मंतर पर हमारे साथ थे। इसके लिए मैंने प्रयास शुरू किया है। मैं यह काम न कर पाऊं, इसके लिए मेरे ऊपर कीचड़ उछाला जाएगा। मेरे परिवार के खिलाफ ट्वीट किए जाएंगे।

आत्मप्रपंचित लोगों द्वारा मेरी निजी इमेज खराब करने की पूरी कोशिश की जाएगी। मैं न डरने वाला हूं और न ही पीछे हटने वाला हूं। पार्टी में पहले वाला जोश लाना है, इसलिए आम आदमी पार्टी वर्जन-2 पर काम किया जाएगा। जो अरविंद केजरीवाल द्वारा लिखित पुस्तक स्वराज पर आधारित होगा।

जब उनके पूछा गया कि आम आदमी पार्टी पार्ट-दो का मतलब क्या एक अलग आम आदमी पार्टी बनाएंगे? इस पर उन्होंने कहा कि जो लोग आंदोलन के समय नहीं थे, मगर सरकार बनने पर साथ आ गए। यही लोग आज निर्णय ले रहे हैं। यह सब नहीं चलेगा।

पार्टी में कार्यकर्ता की सुनी जाएगी। आज पार्टी में वायरस आ गया है। वायरस को दूर किया जाना है। यह वायरस पार्टी को इतना नुकसान पहुंचा रहा है कि हम रामलीला मैदान से 5 लाख की संख्या में चले थे और आज पांच हजार पर आ गए हैं।

News Source: jagran.com

loading...